कहते है हर बात

कहते है हर बात

कहते है हर बात कहते है हर बात जुबां से हम इशारा नहीं करते, आसमां पर चलने वाले जमीं से गुज़ारा नहीं करते, हर हालात बदलने की हिम्मत है हम में, वक़्त का हर फैसला हम गँवारा नहीं करते।

तो पछताओगे बहुत…

तो पछताओगे बहुत…

तो पछताओगे बहुत… सर झुकाने की आदत नहीं है, आँसू बहाने की आदत नहीं है, हम खो गए तो पछताओगे बहुत, क्योंकि… हमारी लौट आने की आदत नहीं है।

दिल में बसाया आपको

दिल में बसाया आपको

दिल में बसाया आपको दिल के हर कोने में बसाया है आपको, अपनी यादों में हर पल सजाया है आपको, यकीं न हो तो मेरी अॉखों में देख लीजिये, अपने अश्कों में भी छुपाया है आपको।

तेरे इंतजार में…

तेरे इंतजार में…

तेरे इंतजार में… तेरे इंतजार में कब से उदास बैठे हैं, तेरे दीदार में आँखे बिछाये बैठे हैं, तू एक नज़र हम को देख ले बस, इस आस में कब से बेकरार बैठे हैं।  

मार डालेगी जुदाई

मार डालेगी जुदाई

मार डालेगी जुदाई हमें ये मोहब्बत किस मोड़ पे ले आई, दिल में दर्द है और ज़माने में रुसवाई, कटता है हर एक पल सौ बरस के बराबर, अब मार ही डालेगी मुझे तेरी जुदाई।

खुशबू की तरह…

खुशबू की तरह…

खुशबू की तरह आसपास बिखर जायेंगे, सुकून बनकर दिल में उतर जायेंगे, महसूस करने की कोशिश कीजिये, दूर होकर भी आपके पास नजर आएंगे।

सारा जहां हो तुम…

सारा जहां हो तुम…

मेरे आँखों के ख्वाब, दिल के अरमान हो तुम, तुम से ही तो मैं हूँ , मेरी पहचान हो तुम, मैं ज़मीन हूँ अगर तो मेरे आसमान हो तुम, सच मानो मेरे लिए तो सारा जहां हो तुम।

नजरों को तेरे प्यार से…

नजरों को तेरे प्यार से…

नजरों को तेरे प्यार से इंकार नहीं है, अब मुझे किसी और का इंतज़ार नहीं है, खामोश अगर हूँ मैं तो ये वजूद है मेरा तुम ये न समझना कि तुमसे प्यार नहीं है।